श्री राधा मोहन सिंह ने किया आई ए आर आई, झारखंड के प्रशासनिक और शैक्षणिक भवन का उद्घाटन

27 जनवरी, 2019, झारखंड

श्री राधा मोहन सिंह, केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री ने आज हजारीबाग में बरही के पास गौरिया कर्मा में भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, झारखंड के प्रशासनिक और शैक्षणिक भवन का उद्घाटन और अतिथि गृह का शिलान्यास किया।

Shri Radha Mohan Singh inaugurates Administrative & Academic Building of IARI-Jharkhand  Shri Radha Mohan Singh inaugurates Administrative & Academic Building of IARI-Jharkhand

श्री सिंह ने अपने उद्घाटन संबोधन में 2030 तक 150 करोड़ के आसपास पहुँचती हुई आबादी के भोजन की पूर्ति के लिए दूसरी हरित क्रांति की तत्काल आवश्यकता को दोहराया। उन्होंने झारखंड सहित पूर्वी राज्यों की अप्रयुक्त संभावनाओं की पहचान करने की आवश्यकता पर भी बल दिया, जो देश में दूसरी हरित क्रांति को गति देने के लिए आवश्यक हैं। केंद्रीय मंत्री ने यह भी उल्लेख किया कि संस्थान का प्रशासनिक भवन लगभग 3.5 वर्षों के भीतर बनाया गया है और अगले शैक्षणिक सत्र, यानी 2019-2020 से कृषि अध्ययन के इच्छुक लोगों को स्नातकोत्तर शिक्षा प्रदान करेगा।

श्री जयंत सिन्हा, केंद्रीय नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री ने कहा कि झारखंड में डीम्ड विश्वविद्यालय का दर्जा प्राप्त संस्थान कृषि, पशु विज्ञान, मत्स्य पालन, बागवानी और वानिकी की क्षमता सामान्य रूप से पूर्वी राज्यों के किसानों की समृद्धि और विशेष रूप से झारखंड की समृद्धि को सक्षम बनाने में मदद करेगा।

डॉ. त्रिलोचन महापात्र, महानिदेशक (भा.कृ.अनु.प.) एवं सचिव (कृषि अनुसंधान एवं शिक्षा विभाग) ने अपने स्वागत भाषण में, भाकृअनुप-भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, नई दिल्ली के योगदान को रेखांकित किया। उन्होंने कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के सहयोग से देश के कृषि अनुसंधान और मानव संसाधन विकास के लिए झारखंड में आई ए आर आई जैसे दूसरे संस्थान के महत्त्व का वर्णन किया।

डॉ. पी. कौशल, कुलपति, बीएयू, राँची; डॉ. ए. के. सिंह, निदेशक, आई ए आर आई और उप महानिदेशक (विस्तार), भाकृअनुप; श्री रमेश घोलप, निदेशक, कृषि, झारखंड सरकार; अतिरिक्त महानिदेशक (बीज), भाकृअनुप; संयुक्त निदेशक (विस्तार), आई ए आर आई के साथ-साथ केंद्र और राज्य सरकारों और भाकृअनुप संस्थानों के कई अधिकारियों ने भी इस अवसर के दौरान अपनी उपस्थिति दर्ज की।

डॉ. जे. पी. शर्मा, संयुक्त निदेशक (विस्तार), आई ए आर आई, नई दिल्ली ने इस अवसर के दौरान धन्यवाद प्रस्तुत किया।

(स्रोत: भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, झारखंड)