भाकृअनुप संस्थानों के हिल कंसोर्टियम की तीसरी वर्चुअल बैठक आयोजित

10 नवंबर, 2021, अल्मोड़ा

भाकृअनुप-विवेकानंद पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, अल्मोड़ा, उत्तराखंड ने आज भाकृअनुप संस्थानों के पहाड़ी क्षेत्र के बीच प्रौद्योगिकी आदान-प्रदान और संयुक्त अनुसंधान के लिए " भाकृअनुप संस्थानों के हिल कंसोर्टियम की तीसरी बैठक" का आयोजन किया।

Virtual 3rd Meeting of Hill Consortium of ICAR Institutes organized

मुख्य अतिथि, डॉ अरुणव पटनायक, भाकृअनुप-भारतीय कृषि जैव प्रौद्योगिकी संस्थान, रांची, झारखंड ने अपने संबोधन में कहा सहयोगी संस्थानों द्वारा विकसित प्रौद्योगिकियों के आदान-प्रदान एक बड़ी सफलता है। डॉ. पटनायक ने कहा कि भाकृअनुप-वीपीकेएएस, अल्मोड़ा द्वारा विकसित चावल, मक्का, बाजरा, क्यूपीएम और सब्जियों की शुरुआती परिपक्व किस्मों ने अन्य पहाड़ी राज्यों को भी लाभान्वित किया है।

इससे पूर्व अपने स्वागत भाषण में डॉ. लक्ष्मी कांत, निदेशक, भाकृअनुप-वीपीकेएएस, अल्मोड़ा, उत्तराखंड ने 17 पहाड़ी फसलों की, 172 ज्यादा उपज देने वाली किस्मों के विकास और अधिसूचना की रूपरेखा तैयार की। डॉ. कांत ने क्यूपीएम किस्म के विकास–“विवेक क्यूपीएम 59 ” एवं व्हाइट फिंगर मिलेट किस्म और मशीनीकरण को संस्थान की एक बड़ी उलब्धि माना।

बैठक में विभिन्न भाकृअनुप संस्थानों के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी भाग लिया।

(स्रोत: भाकृअनुप-विवेकानंद पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, अल्मोड़ा, उत्तराखंड