भाकृअनुप-राअस्ट्रैप्रसं ने मनाया स्थापना दिवस

22 फरवरी, 2019, बारामती

 भाकृअनुप-राष्ट्रीय अजैविक स्ट्रैस प्रबंधन संस्थान, बारामती ने आज पूरे जोश और उत्साह के साथ अपना 11वाँ स्थापना दिवस मनाया।

ICAR-NIASM celebrates Foundation Day  ICAR-NIASM celebrates Foundation Day

डॉ. त्रिलोचन महापात्र, महानिदेशक (भा.कृ.अनु.प.) एवं सचिव (कृषि अनुसंधान एवं शिक्षा विभाग) की उपस्थिति मुख्य अतिथि के तौर पर रही। उन्होंने संस्थान द्वारा बहुत कम समय में किए गए पहलों की सराहना की। डॉ. महापात्र ने प्रशासन और अनुसंधान दोनों क्षेत्रों में आगे बढ़ने का आग्रह किया।

कार्यक्रम के बाद महानिदेशक द्वारा स्कूल ऑफ एडैफिक स्ट्रेस मैनेजमेंट (मृदा संबंधी तनाव प्रबंधन स्कूल) के नए भवन का उद्घाटन किया गया। इस इमारत में एडापिक तनाव के क्षेत्र में अत्याधुनिक अनुसंधान करने के लिए कला प्रयोगशाला की स्थिति और फसल संयंत्र में उनके प्रबंधन को भी विकसित किया गया है। भाकृअनुप-राअस्ट्रैप्रसं के आवासीय परिसर में 'गोदावरी रेजीडेंसी' (6 प्रकार - 5 क्वार्टर), एमआईडीसी (MIDC) बारामती का भी महानिदेशक द्वारा उद्घाटन किया गया।

डॉ. त्रिलोचन महापात्र; एर. एम. के. तिलक, मुख्य अभियंता WZ-II और डॉ. नरेंद्र प्रताप सिंह, निदेशक,  भाकृअनुप-राअस्ट्रैप्रसं ने भाकृअनुप-राअस्ट्रैप्रसं के आवासीय परिसर में एक वृक्षारोपण अभियान भी चलाया।

श्री राजेन्द्र पवार, अध्यक्ष, कृषि विकास ट्रस्ट, बारामती; श्री रंजन कुमार तावरे, अध्यक्ष, मालेगाँव सहकारी साखर कारखाना, मालेगाँव; श्री आर. एन. शिंदे, अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, तिरुपति बालाजी एग्रो प्रोडक्ट्स प्रा. लि., सोमेश्वर नगर और श्री जयदीप तावरे, सरपंच, मालेगाँव (बीके), ग्राम पंचायत, मालेगाँव भी इस अवसर पर अतिथियों के रूप में उपस्थित थे।

डॉ. नरेंद्र प्रताप सिंह, निदेशक, भाकृअनुप-राअस्ट्रैप्रसं ने इससे पहले स्वागत भाषण दिया।

अतिथियों ने संस्थान के प्रकाशनों जैसे स्मारिका, अनुसंधान प्रकाशन, प्रौद्योगिकी बुलेटिन आदि का विमोचन भी किया।

इस अवसर पर बारामती के किसानों को 'प्रगतिशील किसान' के रूप में भी सम्मानित किया गया।

वैज्ञानिकों, तकनीकी और प्रशासनिक कर्मचारियों को वर्ष के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शनकर्ता के रूप में मान्यता दी गई और सम्मानित किया गया।

(स्त्रोत: भाकृअनुप-राष्ट्रीय अजैविक स्ट्रैस प्रबंधन संस्थान, बारामती)