भविष्य के सहयोगात्मक ढाँचे पर चर्चा के लिए भारत और नाइजीरिया के प्रतिनिधिमंडल की मुलाकात

एच. ई. इब्राहिम एच. हदजिया, उप गवर्नर, जिगावा राज्य, नाइजीरिया, के नेतृत्व में चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने दोनों पक्षों के बीच कृषि क्षेत्र में भावी सहयोगी ढाँचे पर चर्चा करने के लिए 30 अक्टूबर 2018 को नई दिल्ली में डॉ. त्रिलोचन महापात्रा, सचिव (डी. ए. आर. ई.) और महानिदेशक (आई. सी. ए. आर.) से मुलाकात की। नाइजीरिया के जिगावा राज्य में पैन अफ्रीकी-पीएयू विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए भी प्रतिनिधिमंडल ने अपनी इच्छा जाहिर की।

India and Nigeria delegations meet to discuss future collaborative framework

नाइजीरियाई प्रतिनिधिमंडल के अन्य सदस्यों में डॉ. येमी ओ. अकिनाबामिजो, मिशन और कार्यकारी निदेशक, फारा, डॉ. इब्राहिम बी इब्राहिम, क्षमता विकास अधिकारी, फारा और जिल्किफ्लू अब्दु, रेक्टर, बिन्यामिनु उस्मान, पॉलीटेकिन, जिगावा राज्य, नाइजीरिया शामिल थे।

श्री छबिलेन्द्र राउल, विशेष सचिव (डी. ए. आर. ई.) और सचिव (आई. सी. ए. आर.); डॉ. जे. के. जेना, डीडीजी (फाई साइंस एंड एएस), आई. सी. ए. आर.; डॉ. ए. के. सिंह, डीडीजी, (सी.एस. और एच.एस.); डॉ. नरेंद्र सिंह राठौर, डीडीजी (कृषि शिक्षा), आई. सी. ए. आर.,; डॉ. ए. अरुणाचलम, एडीजी (आई. आर.) (कार्यकारी प्रभार); श्री राजन अग्रवाल, निदेशक (आई.सी.), डी. ए. आर. ई.; डॉ. आर. के. जैन, संयुक्त निदेशक (Edn.), आई. सी. ए. आर – आई. ए. आर. आई. भी इस अवसर पर उपस्थित थे।