केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री ने किया आईसीएआर-सीआईएफआरआई, बैरकपुर का दौरा

16 नवंबर, 2018, बैरकपुर

श्री राधा मोहन सिंह, केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री ने आज भाकृअनुप-केंद्रीय अंतर्देशीय मत्स्य अनुसंधान संस्थान, बैरकपुर का दौरा किया।

अधिकारियों और किसानों को संबोधित करते हुए, श्री सिंह ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री के नेतृत्व में पिछले साढ़े चार सालों के दौरान, देश में मत्स्यपालन क्षेत्र के विकास के लिए नीले क्रांति कार्यक्रम के तहत कई राज्य मछली उत्पादन में आत्मनिर्भरता के करीब पहुँच गए हैं। पिछले चार वर्षों में मछली उत्पादन में 26% की वृद्धि हुई है।

श्री सिंह ने संस्थान द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की और लक्ष्य से अधिक राजस्व उत्पादन के लिए संस्थान को बधाई दी। साथ ही, वैज्ञानिक समुदाय से और अधिक राजस्व उत्पन्न करने के लिए कड़ी मेहनत करने का आग्रह किया। उन्होंने इस संस्थान द्वारा विकसित मत्स्यपालन प्रौद्योगिकियों के प्रभावी कार्यान्वयन के माध्यम से किसान की आय को दोगुना करने की आवश्यकता पर बल दिया।

केंद्रीय कृषि मंत्री ने नेहरू युवा केंद्र, पश्चिम बंगाल के राष्ट्रीय सेवा स्वयंसेवकों के लिए 'अंतर्देशीय मत्स्य प्रबंधन' पर कौशल विकास अभिविन्यास प्रशिक्षण कार्यक्रम का भी उद्घाटन किया। इस कार्यक्रम के तहत, एक हजार स्वयंसेवकों को अंतर्देशीय मत्स्यपालन पर प्रशिक्षित किया जा रहा है। यह कार्यक्रम संयुक्त रूप से आई.सी.ए.आर.-सी.आई.एफ.आर.आई., बैरकपुर द्वारा नेहरू युवा केंद्र, पश्चिम बंगाल के सहयोग से आयोजित किया गया है।

इससे पूर्व, डॉ. बी. के. दास, निदेशक,  ने स्वागत वक्तव्य के दौरान भारत में अंतर्देशीय मछुआरों की आय और आजीविका बढ़ाने के लिए संस्थान द्वारा किए गए विभिन्न शोध और विस्तार-क्षेत्र के गतिविधियों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने उन्हें भारत के विभिन्न हिस्सों से अंतर्देशीय मछली उत्पादन में वृद्धि के लिए संस्थान द्वारा विकसित विभिन्न प्रौद्योगिकियों और उसके प्रभावों के बारे में भी सूचित किया।

 : :

श्री नवीन नायक, निदेशक, नेहरू युवा केंद्र, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, आईसीएआर-सीआईएफआरआई तथा नेहरू युवा केंद्र, कोलकाता के वरिष्ठ अधिकारी और पश्चिम बंगाल के सैकड़ों किसानों ने इस कार्यक्रम में भाग लिया।

 

(स्रोत: भाकृअनुप-केंद्रीय अंतर्देशीय मत्स्य अनुसंधान संस्थान, बैरकपुर)