राष्ट्रीय स्तर की प्रथम पूर्ण छिलके सहित खाने योग्य सब्जी मटर वीपीएसपी 906 – 1 जारी

15 – 17 जून, 2022, अल्मोड़ा

 भाकृअनुप-भारतीय सब्जी अनुसंधान संस्थान, वाराणसी, उत्तर प्रदेश ने 15-17 जून 2022 को आयोजित सब्जी फसलों पर अखिल भारतीय समन्वित शोध परियोजना की 40वीं समूह बैठक में राष्ट्रीय स्तर की प्रथम, पूर्ण छिलके सहित खाने योग्य सब्जी मटर प्रविष्टि वीपीएसपी 906 - 1 को जोन - 4 (उत्तर भारतीय मैदानी क्षेत्र - उत्तर प्रदेश, बिहार, एवं पंजाब) के लिए जारी किया। संस्थान ने इसे अधिसूचित किये जाने हेतु चिन्हित भी किया।

सब्जी फसलों पर एआईसीआरपी की 40वीं समूह बैठक आयोजितसब्जी फसलों पर एआईसीआरपी की 40वीं समूह बैठक आयोजित

इस प्रविष्टि की सम्पूर्ण फली खाने योग्य होती है, जिन्हें दाने बनते समय, इसके कोमल अवस्था में ही तोड़ा जाता है। इसकी औसत हरी फली उपज 125 - 175 क्विंटल प्रति हैक्टेयर आंकी गयी है। इस प्रजाति को उत्पादन और गुणवत्ता के मामले में, विशेष रूप से, ठंडी जलवायु प्रदेशों के लिए उपयुक्त माना गया है।

संस्थान द्वारा आश्वस्त किया गया कि सब्जी मटर की इस प्रजाति की खेती से उत्तर भारतीय मैदानी इलाकों में अच्छा मुनाफा प्राप्त किया जा सकता है, और इस क्षेत्र के किसानों की आर्थिक स्थिति को भी सुदृढ़ किया जा सकता है।

(स्रोत: भाकृअनुप-विवेकानन्द पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, अल्मोड़ा, उत्तराखंड)