भाकृअनुप-भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान,कृषि विज्ञान केन्द्र, लखनऊ में प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित

17 जून, 2022, लखनऊ

श्री अजीत सिंह पाल, राज्य मंत्री, विज्ञान प्रौद्योगिकी एवं इलेक्ट्रॉनिक्स तथा सूचना प्रौद्योगिकी विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आज 17 जून, 2022 को भाकृअनुप-भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान एवं केवीके, लखनऊ द्वारा चलाए जा रहे प्रशिक्षण के माध्यम से लाभकारी दुग्ध शाला एवं संतुलित पशुपालन प्रबंधन हेतु कृषक क्षमता निर्माण कार्यक्रम के तहत“ दुधारू पशुओं में खनिज लवण मिश्रण खिलाने की महत्ता” विषय पर तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन किया गया।

 

इसके उपरान्त, श्री सिंह ने भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान, केवीके, लखनऊ के प्रगतिशील कृषकों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। मंत्री ने किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सरकार सदैव कृषकों के उत्थान के लिए प्रयासरत है, किसानों के विकास से ही देश का विकास संभव है। उन्होने इस बात पर जोर दिया कि केंद्र सरकार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के माध्यम से देश के सभी किसानों के खाते में हर चार माह में एक निश्चित राशि स्थानांतरित कर रही है, जिससे किसान अपने कृषि में निवेश कर रहे हैं, और यह किसानों के लिए एक संबल के रूप में कार्य कर रहा है। मंत्री ने केवीके के कार्यों की सराहना करते हुये कहा कि, किसान इससे जुड़कर नवीनतम तकनीकी की जानकारी लें तथा उसे अपने खेतों में उपयोग कर अधिकाधिक उत्पादकता एवं लाभ को हासिल करें।

कार्यक्रम के प्रारम्भ में, डॉ. सुधीर कुमार शुक्ल, प्रधान वैज्ञानिक, भाकृअनुप-भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान लखनऊ ने राज्य मंत्री का स्वागत किया तथा संस्थान की विभिन्न गतिविधियों से अवगत कराया।

कार्यक्रम के अन्त में, डॉ. अखिलेश कुमार दुबे, अध्यक्ष, कृषि विज्ञान केन्द्र, भाकृअनुप-भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान, लखनऊ ने कार्यक्रम में आये सभी आगंतुकों एवं किसानों का धन्यवाद ज्ञापन किया ।

इस कार्यक्रम में केंद्र के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी सहित 50 कृषकों ने उपस्थिति दर्ज कराई ।

(स्रोत: भाकृअनुप-भारतीय गन्ना अनुसंधान संस्थान,कृषि विज्ञान केन्द्र, लखनऊ)